4 Unique Motivational Poem in Hindi | मोटिवेशनल हिन्दी पोएँम

Motivational Poem in Hindi काव्य संग्रह में हम Hindi Motivational Poetry, और Inspirational Kavita के साथ साथ ऐसी अनेको स्वरचित(मौलिक) हिन्दी कविताएँ प्रकाशित करते रहेगें।

हम सभी को जिंदगी में सफलता प्राप्त करने के लिए Self Motivation की अवश्यकता होती है, और इस उत्साह को बनाये रखनें हमको सदेव ही मोटिवेशनल किताबो, कविताओ या फिर विडियोस से मदत मिलती है। हमारे लिखे यह Motivational Thoughts in Hindi आपको हंर परिस्थिति में उत्साहवर्धन करेंगें।

Motivational Poem in Hindi - आत्मविश्वास पर हिन्दी कविता  #1

Motivational Poem In Hindi, Motivational shayari, Motivational Kavita
क्या खोजते हो दुनिया में,
जब सब कुछ तेरे अन्दर है।
क्यों देखते हो औरों में,
जब तेरा मन ही दर्पण है।

दुनिया बस एक दौड़ नहीं,
तू भी अश्व नहीं है धावक।
रुक कर खुद से बातें करले,
अन्तर मन को शान्त तो करले।

सपनों की गहराई समझो,
अपने अन्दर की अच्छाई समझो।
स्वाध्याय की आदत डालो,
जीवन को तुम खुलकर जीलो।

आलस्य तुम्हारा दुश्मन है तो,
पुरुशार्थ को अपना दोस्त बनालो।
जीवन का ये रहस्य समझलो,
और खुशीयों से तुम नाता जोड़ो।

यह Motivational poetry आपको आपके अन्दर छुपी अनन्त संभावनाओं व आत्मविश्वास के बारे में बताती है। साथ ही यह भी बताती है, जिंदगी का लक्ष्य सिर्फ सफलता ही नहीं है, बल्कि एक खुशहाल जीवन जीना है। इस काव्य संग्रह में यह Famous Hindi Motivational Poem है। 

Inspirational Poem in Hindi -  प्रेरक हिन्दी कविता  #2

जीवन में दुख भी आने हैं,
और आके एक दिन जाना है।
जब समय चक्र बदल जाये,
पल में सब काम बिगड़ जाये।
धोका अपनों से मिल जाये,
हर ओर संकट के बादल छा जाये।

तब बन्द करो तुम आँखों को,
कुछ पल खुद में खो जाओ।
शक्ति बजरंग बली से है तुम में,
उस शक्ति का तुम ध्यान करो।

श्रीराम को भी वनवास हुआ,
पर धैर्य को संग में साधा था।
फिर समय का पहिया घूमेगा,
लक्ष्यों पर केन्द्रित ध्यान करो
और बाणों का संधान करो।
बुरे समय से जो कुछ सीखा है,
उन बातों का सम्मान करो।

तुम उठो वीर स्वाभीमानी से,
तुम चढो सफलता की सीढी।
अडिग रहे जो तुम विपरीत काल में,
अब उसके फल का स्वाद चखो।
हर युग में नायक बनते हैं,
इस युग के तुम नायक हो।
समय चक्र तो चलता है,
तुम हर समय का सम्मान करो।

जिन्दगी में सबसे ज्यादा हत्तोसाहित हम तब हो जाते है जब संकट में घिरे होते है। यह Inspirational Poem in Hindi ऐसे समय में ऊर्जा का संचार करने के लिए लिखी गई है।

Motivational Hindi Poem, Inspirational Hindi Poem

Best Motivational Poem in Hindi - उत्साहवर्धक हिन्दी कविता  #3

कर्मपथ पर तुमको बढना है वीरों जैसा,
राह में मुश्किल आनी है,
धीरज हो मुनियों जैसा।
ठोकर लगनी निश्चित है,
तुम तब भी अडिग रहो पर्वत जैसे।
चाहे शेर जैसा प्रतिद्वन्दी हो,
तुम निडर रहो योद्धा जैसे।

पुरूषार्थ को तुम साधलो,
दिन हो या रात हो,
चाहे ना कोई साथ हो,
तब भी नदी से तुम अविरल बहो।

संकल्प की मजबूत एक डोर हो,
जिससे तुम बन्धे रहो।
ज्ञान को तुम सहेज लो,
उग्र तुम बनो नहीं।

कर्म योनी में जन्म लिया,
कर्म योगी बने रहो।
लक्ष्य पर बने रहो, 
लक्ष्य भेदते रहो।

सतत् बहुत सी Famous Hindi Poem Motivation और Inspiration के लिए लिखी जाती है। इन मौलिक हिन्दी रचनाओ के माध्यम से हम उन विषयों को छू रहे हैं जो नये हैं, और आप जिस भी फोरम पर इन कविताओं को शेयर करेंगे, सभी आपको सराहेंगे।


Motivational Short Poem in Hindi - मोटिवेशनल छोटी कविता  #4

Inspiration Poem in Hindi, Motivational Poem Image
सपनों  का एक सागर है,
सागर में गहराई है,
कोई ना इसको नाप है पाया।

तेरे सपने तेरी मंजिल,
तुझको ही तय करनी है।
छोर मिलेगा उसको ही,
जिसने हिम्मत करली है।
तूफान यहाँ हैं पग-पग पर,
निराशा के हैं ज्वार बहुत।
तेरे सपने, तेरी हिम्मत है,
बदलेगा ये दुनिया तू।

आज निकलजा अन्धियारे में,
कल का सूरज तेरा है। 
सपनों के इस सागर में,
सपनों का एक जाल भी है।
ध्यान रहे तू अर्जन है,
एक लक्ष्य ही तेरा सब कुछ है।
लहरों से टकराना  है,
उनसे भी ऊपर उठ जाना है।
कल जो आने वाला है,
उसको अपना बनाना है।

यह Motivational Poem in Hindi दृढता से अपने सपनों को पूरा करने के विषय मे लिखी गई है। सपनें हम बहुत से देखते है, परन्तु एक लक्ष्य होना बहुत ही आवश्यक है। यह हिन्दी कविता इसी सकारात्मक सोच को दर्शाती है।

ऐसी आशा है यह Motivational Hindi Poems का संग्रह हमारे सभी पाठकों को पसंद आयेगा। आप भी अपने विचार हमारे साथ Comment Box में शेयर जरूर करें। इस Space के साथ जुङे रहने के लिए Blog को आप Follow या Suscribe by Email कर सकते है, ताकि आने वाले महीनो में प्रकाशित होने वाली नयी Motivational and Inspirational Hindi Poems आप तक पहुँच सके।

No comments:

Post a comment

नेचर पर कविताएँ

बचपन की यादों पर कविताएँ