4 Unique Motivational Poem in Hindi | मोटिवेशनल हिन्दी पोएँम

Motivational Poem in Hindi काव्य संग्रह में हम Motivational Hindi Poem, Inspirational Hindi Poem, Hindi Poem on Positive Thinking, Hindi Poem on Hardwork, Hindi Poem on Self-believe, Moral Boosting Hindi Poem, and Hindi Poem on discipline के साथ साथ ऐसी अनेको स्वरचित(मौलिक) हिन्दी कविताएँ प्रकाशित करते रहेगें।

इस space में आपको हर माह नयी Hindi Motivational Poem पढने को मिलेंगी। आप Blog को जरूर follow करे, ताकि इस काव्य संग्रह की नयी अपडेट आप तक पहुँच सके। यह Motivational Hindi Poem आप Whats App व Facebook  status पर भी अपडेट कर सकते है।


Motivational Poem in Hindi - एक हिन्दी काव्य संग्रह  #1




क्या खोजते हो दुनिया में,
जब सब कुछ तेरे अन्दर है।
क्यों देखते हो औरों में,
जब तेरा मन ही दर्पण है।

दुनिया बस एक दौड़ नहीं,
तू भी अश्व नहीं है धावक।
रुक कर खुद से बातें करले,
अन्तर मन को शान्त तो करले।

सपनों की गहराई समझो,
अपने अन्दर की अच्छाई समझो।
स्वाध्याय की आदत डालो,
जीवन को तुम खुलकर जीलो।

आलस्य तुम्हारा दुश्मन है तो,
पुरुशार्थ को अपना दोस्त बनालो।
जीवन का ये रहस्य समझलो,
और खुशीयों से तुम नाता जोड़ो।

यह Inspirational Hindi Poem आपको आपके अन्दर छुपी अनन्त संभावनाओं के बारे में बताती है। साथ ही यह भी बताती है, जिंदगी का लक्ष्य सिर्फ सफलता ही नहीं है, बल्कि एक खुशहाल जीवन जीना है।  Motivational Poem in Hindi के इस काव्य संग्रह में यह most Famous Hindi Poem है। 

Motivational Poem in Hindi - एक हिन्दी काव्य संग्रह  #2

जीवन में दुख भी आने हैं,
और आके एक दिन जाना है।
जब समय चक्र बदल जाये,
पल में सब काम बिगड़ जाये।
धोका अपनों से मिल जाये,
हर ओर संकट के बादल छा जाये।

तब बन्द करो तुम आँखों को,
कुछ पल खुद में खो जाओ।
शक्ति बजरंग बली से है तुम में,
उस शक्ति का तुम ध्यान करो।

श्रीराम को भी वनवास हुआ,
पर धैर्य को संग में साधा था।
फिर समय का पहिया घूमेगा,
लक्ष्यों पर केन्द्रित ध्यान करो
और बाणों का संधान करो।
बुरे समय से जो कुछ सीखा है,
उन बातों का सम्मान करो।

तुम उठो वीर स्वाभीमानी से,
तुम चढो सफलता की सीढी।
अडिग रहे जो तुम विपरीत काल में,
अब उसके फल का स्वाद चखो।
हर युग में नायक बनते हैं,
इस युग के तुम नायक हो।
समय चक्र तो चलता है,
तुम हर समय का सम्मान करो।

जिन्दगी में सबसे ज्यादा हत्तोसाहित हम तब हो जाते है जब संकट में घिरे होते है। यह Motivational Poem in Hindi ऐसे समय में ऊर्जा का संचार करने के लिए लिखी गई है।

Motivational Hindi Poem, Inspirational Hindi Poem

Motivational Poem in Hindi - एक हिन्दी काव्य संग्रह  #3

कर्मपथ पर तुमको बढना है वीरों जैसा,
राह में मुश्किल आनी है,
धीरज हो मुनियों जैसा।
ठोकर लगनी निश्चित है,
तुम तब भी अडिग रहो पर्वत जैसे।
चाहे शेर जैसा प्रतिद्वन्दी हो,
तुम निडर रहो योद्धा जैसे।

पुरूषार्थ को तुम साधलो,
दिन हो या रात हो,
चाहे ना कोई साथ हो,
तब भी नदी से तुम अविरल बहो।

संकल्प की मजबूत एक डोर हो,
जिससे तुम बन्धे रहो।
ज्ञान को तुम सहेज लो,
उग्र तुम बनो नहीं।

कर्म योनी में जन्म लिया,
कर्म योगी बने रहो।
लक्ष्य पर बने रहो, 
लक्ष्य भेदते रहो।

सतत् बहुत सी Famous Hindi Poem Motivation और Inspiration के लिए लिखी जाती है। इन मौलिक हिन्दी रचनाओ के माध्यम से हम उन विषयों को छू रहे हैं जो नये हैं, और आप जिस भी फोरम पर इन कविताओं को शेयर करेंगे, सभी आपको सराहेंगे।


Motivational Poem in Hindi - एक हिन्दी काव्य संग्रह  #4

सपनों  का एक सागर है,
सागर में गहराई है,
कोई ना इसको नाप है पाया।

तेरे सपने तेरी मंजिल,
तुझको ही तय करनी है।
छोर मिलेगा उसको ही,
जिसने हिम्मत करली है।
तूफान यहाँ हैं पग-पग पर,
निराशा के हैं ज्वार बहुत।
तेरे सपने, तेरी हिम्मत है,
बदलेगा ये दुनिया तू।

आज निकलजा अन्धियारे में,
कल का सूरज तेरा है। 
सपनों के इस सागर में,
सपनों का एक जाल भी है।
ध्यान रहे तू अर्जन है,
एक लक्ष्य ही तेरा सब कुछ है।
लहरों से टकराना  है,
उनसे भी ऊपर उठ जाना है।
कल जो आने वाला है,
उसको अपना बनाना है।

यह Motivational Poem in Hindi दृढता से अपने सपनों को पूरा करने के विषय मे लिखी गई है। सपनें हम बहुत से देखते है, परन्तु एक लक्ष्य होना बहुत ही आवश्यक है। यह हिन्दी कविता इसी सकारात्मक सोच को दर्शाती है।

Motivational Poem in Hindi - एक हिन्दी काव्य संग्रह  #5

वक्त है बदल जायेगा,
कल का सूरज नया जोश लायेगा।
हालतो से लड़ रहे हो भले,
कल यह दिन भी बदल जायेगा।

जिंदगी यूँही रंग बदलती रहेगी,
आज का बनाया, कल खो जायेगा।
जो मन में रहेगी आशा,
तो हर पल मुस्करायेगा।

जो खोया था कल में,
वह भी खोज लायेगा,
जुड़ने, बिखरनें से फिर तू ना घबरायेगा,
सफलता-असफलता सभी को अपनायेगा.

आगे हे बढना, बढते ही जाना,
राहो की ठोकर से कभी न घबराना।
धूप और छाव आते जाते रहेगें,
संकल्प पथ से तनिक ना भटकना।
संकल्प पथ से तनिक ना भटकना।।

हमारी सफलता में जितना योगदान हमारी योग्यताओ का होता है, उतना ही प्रभाव हमारी सोच व संकल्प सकती का भी होता है, आशा हे कि आप इस मोटिवेशनल कविता को आत्मसात करेगें.

**********************************************************************************

हमारी पसंद के कुछ Hindi Motivational Poems के Youtube Links शेयर कर रहे है, जो आपको जरूर पसंद आयेंगे और मुस्किल समय में मोटिवेट करेंगेे। यह हमारे द्वारा बनायी गयी Videos नही है, पर हमे आशा है ये हिन्दी कविताये भी आपको को पसंद आयेगी।

Motivational Hindi Poetry | "Ramdhari Singh Dinkar" "Harivansh Rai Bachchan" | Manoj Muntashir



Hindi Motivational Poem : सब जाग रहे तू सोता रह ,किस्मत को थामे रोता रह :Written By Kavi Sandeep Dwivedi




ऐसी आशा है यह Motivational Hindi Poems का संग्रह हमारे सभी पाठकों को पसंद आयेगा। आप भी अपने विचार हमारे साथ Comment Box में शेयर जरूर करें। इस Space के साथ जुङे रहने के लिए Blog को आप Follow या Subscribe by Email कर सकते है, ताकि आने वाले महीनो में प्रकाशित होने वाली नयी Motivational and Inspirational Hindi Poems आप तक पहुँच सके।

No comments:

Post a Comment

नेचर पर कविताएँ

बचपन की यादों पर कविताएँ